मकर संक्रांति पर ज्योतिष गुरुकुलम में राष्ट्र कल्याण,विश्व शांति और जोशीमठ में आई आपदा के निवारण के लिए किया महायज्ञ

रुड़की।मकर संक्रांति के पावन पर्व पर उत्तराखंड ज्योतिष परिषद के तत्वावधान में राजपूताना स्थित ज्योतिष गुरुकुलम में राष्ट्र कल्याण,विश्व शांति एवं उत्तराखंड के जोशीमठ में आई आपदा के निवारण के लिए विशेष सूर्य महायज्ञ का आयोजन किया गया,जिसमें 1008 आहुतियां दी गई।सूर्य मंत्रों द्वारा आहुतियां दे विशेष सूर्य महायज्ञ किया गया तथा सूर्य पूजा की गई।भगवान शिव शंकर जी का अभिषेक भी किया गया।ज्योतिष गुरुकुलम के अध्यक्ष आचार्य पं.रमेश सेमवाल ने कहा कि आज उत्तराखंड देवभूमि में शंकराचार्य जी की भूमि जोशीमठ खतरे में है।आपदा आई हुई है,इसके निवारण के लिए हम सूर्य नारायण भगवान से प्रार्थना करते हैं कि हमारा उत्तराखंड सुरक्षित रहे। भगवान बद्री विशाल की कृपा उत्तराखंड पर हमेशा बनी रहे

।आचार्य सेमवाल ने कहा कि यज्ञ के द्वारा देवता प्रसन्न होते हैं और देव शक्तियों का आशीर्वाद प्राप्त होता है।जनमानस सुरक्षित रहता है।उन्होंने कहा कि हमें राष्ट्र के कल्याण के लिए प्रार्थना की,पूरे विश्व के कल्याण की कामना की। उन्होंने कहा कि प्राचीन काल में ऋषि मुनि यज्ञ के द्वारा देवताओं को प्रसन्न करते थे।देवता प्रसन्न होकर जनकल्याण के लिए आशीर्वाद देते थे।शक्तियां प्रदान करते थे।यज्ञ का बहुत बड़ा महत्व है।मंत्र शक्ति के द्वारा परमात्मा प्रसन्न होते हैं और हिंदू सनातन संस्कृति में यज्ञ का बड़ा भारी महत्व है।भगवान शंकर का रुद्राभिषेक कर भगवान शंकर से भी प्रार्थना की गई।आचार्य सेमवाल ने कहा कि उत्तराखंड को पर्यटन नहीं,तीर्थाटन के रूप में ही विकसित किया जाना चाहिए।ये देवभूमि शंकराचार्य जी की भूमि है। वेदव्यास जी की भूमि है श्री बद्रीनाथ जी,श्री केदारनाथ जी,मां गंगा यहां विराजमान हैं।यहां की शुद्धता और पवित्रता का ध्यान रखा जाना चाहिए।बांधों का निर्माण तुरंत रोका जाना चाहिए।रुड़की मेयर गौरव गोयल ने कहा कि जोशीमठ में आएगी आपदा के निवारण के लिए यज्ञ करने से देवता प्रसन्न होते हैं।राष्ट्र में आई हुई आपदा दूर होती है।उन्होंने कहा कि आचार्य सेमवाल ने बहुत अच्छा कार्य किया है कि प्राचीन काल से यज्ञ के द्वारा सुख शांति-समृद्धि होती है।देवता प्रसन्न होते हैं और अपना आशीर्वाद प्रदान करते हैं। स्वामी दिनेश आनंद भारती जी ने कहा कि मकर संक्रांति के पावन पर्व पर यज्ञ-अनुष्ठान,पूजा-पाठ से निश्चित रूप से राष्ट्र का कल्याण होगा और उत्तराखंड की आपदा दूर होगी।भाजपा के जिला अध्यक्ष शोभाराम प्रजापति ने कहा कि यज्ञ प्राचीन पद्धति है।यज्ञ अनुष्ठान से वातावरण शुद्ध होता है और राष्ट्र का मंगल ही मंगल होता है।मंत्रों में बहुत बड़ी शक्ति होती है।मंत्र शक्ति के द्वारा देवता प्रसन्न होते हैं। वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सचिन गुप्ता ने कहा कि मकर संक्रांति का पावन पर्व उत्तरायण पर्व बहुत श्रेष्ठ दिन होता है।इस दिन की साधना फलीभूत होती है। सूर्य साधना के द्वारा लोक कल्याण होता है और सबका शुभ होता है।आज के दिन अनुष्ठान और पूजन से निश्चित रूप से विश्व का कल्याण होगा और जोशीमठ में आई हुई आपदा दूर होगी।कार्यक्रम में सिविल लाइन कोतवाली इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह चौहान,भाजपा के महामंत्री प्रवीण सिंधु,जिला उपाध्यक्ष भीम सिंह,पंकज नंदा, ब्राह्मण सभा के अध्यक्ष सतीश शर्मा,पूजा नंदा,सूर्यवीर मलिक,धर्मवीर शर्मा,श्रीवास्तव,चित्रा गोयल,सुलक्ष्णा सेमवाल,राधा भटनागर,रेनू शर्मा,परीक्षा वर्मा,गौरव वर्मा,नरेंद्र भारद्वाज,बीएल अग्रवाल,आदिति सेमवाल व इमरान देशभक्त आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.