बाबू हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफतार, अन्य अपराधियों की तलाश जारी


बाबू हत्याकांड का मुख्य आरोपी भगवानपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मामले में 8 लोगों के नामजद समेत 25 के खिलाफ मुकदमा दर्ज है अन्य आरोपियों की तलाश पुलिस द्वारा की जा रही है। आरोपी ने बताया कि कुछ दिनों पूर्व हुए झगड़े में फैसले के बहाने बाबू और उसके साथियों को बुलाया था जहां उसकी हत्या कर दी। रुड़की के सुनहरा निवासी कुणाल उर्फ बाबू की शुक्रवार को भगवानपुर थाना क्षेत्र के गांव में गोली मारकर हत्या कर दी थी। मामले में सामने आया था कि बाबू और उसके साथियों के द्वारा करौंदी निवासी युवक रोहित राणा के साथ 19 जून को मार पिटाई की गई थी। जिसके बाद वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। शुक्रवार को हुई बाबू की हत्या में मृतक के भाई आशीष की ओर से रोहित राणा और उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया था।मुकदमे में मृतक के भाई ने बताया था कि 24 जून को गौरव पंडित ने उसे फोन करके बताया कि उसके भाई बाबू का मर्डर हो गया है और उसका शव विनय विशाल अस्पताल रूडकी में है तथा सन्नी त्यागी निवासी चुडियाला ने बताया कि दिन में दीपक सैनी ने उसे फोन करके बताया था कि 20-25 लडके बाबू और विक्की ठाकुर के साथ रूहालकी शमशान घाट के पास मारपीट कर रहे है तो जब सन्नी त्यागी रूहालकी शमशान घाट के पास पहुँचा था तो वहाँ बाबू घायल अवस्था में पड़ा था तथा झाड़ियों से विक्की ठाकुर बाहर आया था उसके बाद जब वह विक्की ठाकुर की मदद से बाबू को सरकारी अस्पताल भगवानपुर ले जा रहा था तो रास्ते मे बाबू ने मुझे बताया था कि कुछ दिन पहले उसका झगड़ा रोहित राणा से हो गया था उसी कारण रोहित राणा और उसके साथियों बन्टी उर्फ बल सिह निवासी खेडा विलासपुर, सचिन कश्यप पुत्र कलीराम निवासी गैस प्लान्ट के पीछे, योगेश डीलर निवासी चौली शाहबुददीनपुर,शुभम राणा निवासी रूहालकी, शशांक उर्फ झोझा निवासी रूहालकी,आकाश गुर्जर निवासी शाहपुर भगवानपुर और बाहुबली उर्फ अमन निवासी रूहालकी ने साथ मिलकर समझौता करने के बहाने बुलाकर उसके साथ मारपीट कर गोली मार दी।जिसके आधार पर थाना भगवानपुर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी के लिए अलग-अलग टीम का गठन किया गया। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर रोहित राणा पुत्र महावीर निवासी ग्राम करौन्दी थाना भगवानपुर जनपद हरिद्वार को भगवानपुर बस स्टेण्ड से गिरफ्तार किया। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि 19जून को मृतक बाबू, दीपक सैनी व विक्की ठाकुर ने मिलकर उसके साथ सोनाली पुल रूड़की के पास मारपीट की थी उसी का बदला लेने के लिए उसने द्वारा अपने 20-25 साथियों के साथ मिलकर बाबू, दीपक सैनी व विक्की ठाकुर से बदला लेने का आयोजन प्लान बनाया था।प्लान के अनुसार शुक्रवार को दिन में म बाबू तथा विक्की ठाकुर को समझौते के बहाने रूहालकी शमशान घाट के पास बुलाया गया था तथा मौका पाकर साथीयों ने मिलकर बाबू के साथ मारपीट की थी। मारपीट के बाद बाबू को मृत समझकर वही छोड़ दिया था जबकि विक्की ठाकुर मौके से अपनी जान बचाकर भाग गया था। पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह, उप निरीक्षक कर्मवीर सिंह, प्रवीण बिष्ट, दीपक चौधरी, चालक लाल सिंह, कांस्टेबल सुधीर शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.