बीमारी के चलते हरिद्वार के वरिष्ठ पत्रकार, साहित्यकार, कवि एवं लेखक डाॅ. कमलकांत बुधकर का आकस्मिक निधन, प्रेस क्लब रुड़की, रजि. द्वारा शोक आयोजित किया गया

 

रिपोर्ट रुड़की हब
रुड़की।बीमारी के चलते हरिद्वार के वरिष्ठ पत्रकार, साहित्यकार, कवि एवं लेखक डाॅ. कमलकांत बुधकर का आकस्मिक निधन हो गया था। इस सम्बन्ध में प्रेस क्लब रुड़की, रजि. द्वारा एक शोक आयोजित की गई। जिसमें दो मिनट का मौन धारण कर दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना ईश्वर से करते हुए मृतक आत्मा को भगवान अपने श्रीचरणों में स्थान दें और परिवार को इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें ऐसी कामना की गई। शोक सभा में बोलते हुए प्रेस क्लब रुड़की रजि. के पदाधिकारियों ने कहा कि वह उत्तराखण्ड मीडिया कर्मियों की प्रमुख संस्था नेशन लिस्ट यूनियन आॅफ जर्नलिस्ट के सदस्य थे और हरिद्वार इकाई के जिलाध्यक्ष भी रहे। यही नहीं वह देश के जाने-माने वरिष्ठ पत्रकारों में शामिल थे। साथ ही कहा कि वह 72 वर्ष के थे और पिछले काफी समय से पैरालाईसिस से जूझ रहे थे। वह विश्व विद्यालय कांगडी में पत्रविषय के एसोसिएट प्रोफेसर रहे। हरिद्वार प्रेस क्लब के संस्थापक रहे। उन्होंने साप्ताहिक पत्रिकाओं से अपनी पत्रकारिता की शुरूआत की और लंबे समय तक नवभारत टाईम्स के हरिद्वार प्रभारी रहे। उनके निधन से हम सब दुःखी हैं। 19 जनवरी 1950 को हरिद्वार में जन्मे मराठी भाषी डाॅ. कमलकांत बुधकर शिक्षक के रुप में 1972 से ही विभिन्न स्नातक महाविद्यालयों में हिन्दी प्राध्यापक तथा 1990 से गुरूकुल कांगडी विश्वविद्यालय में हिन्दी पत्रकारिता के प्राध्यापक के रुप में कार्य करते रहे। उनकी कमी हमेशा खलती रहेगी। शोक सभा में प्रेस क्लब,रुड़की (रजि.)के सभी पदाधिकारी व समस्त सदस्य मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.