जिलाधिकारी विनय शंकर पांडे ने कांवड़ मेला क्षेत्र का किया निरीक्षण


रिपोर्ट रुड़की हब
रुड़की
।।कांवड मेला क्षेत्र की व्यवस्थाओं का आज जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने निरीक्षण किया। इस दौरान कांवड मेला क्षेत्र में शिवभक्त कांवडियों का अपार जनसैलाब उमडा देख डीएम गदगद नजर आये। क्योंकि सम्पूर्ण कांवड़ मेला क्षेत्र कांवडियों से ही भरा हुआ था। डाक कांवड़ के कारण सम्पूर्ण क्षेत्र में डाक कांवडियों की लगातार वृद्धि हो रही है।

जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने शंकराचार्य चौक, तुलसी चौक, शिवमूर्ति चौक, बाल्मिकी चौक, ललतारा पुल, अपर रोड, बिड़ला घाट, चण्डी चौक, रोड़ी बेलवाला विष्णु घाट, गौ घाट क्षेत्रों का

निरीक्षण किया तथा सम्बन्धित क्षेत्रों के जोनल मजिस्ट्रेट, सेक्टर मजिस्ट्रेट को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि जब तक सभी डाक कांवडियें हरिद्वार से प्रस्थान न कर जाये, तब तक सभी मजिस्ट्रेट अपने-अपने क्षेत्रों में सजग रहेेंगे। क्योंकि सम्पूर्ण कांवड़ काल के दौरान यह समय सबसे संवेदनशील है। इस समय थोड़ी सी भी असवाधानी बडा विकराल रूप ले सकती है। इसलिये हमें और अधिक तत्परता से अपने अपने दायित्वों का निर्वहन करना है। जिलाधिकारी ने


सी0सी0आर0 टावर से भी कांवड मेला क्षेत्र का निरीक्षण किया तथा वहां पर भी सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये कि इस समय हरकी पैडी के आस पास का क्षेत्र तो संवेदनशील है ही परन्तु अब डाक कांवडियों की अपार भीड़ अपने अपने गंतव्य स्थानों पर प्रस्थान कर रही है। इन सभी क्षेत्रों केे मजिस्ट्रेटों की और अधिक जिम्मेदारी है कि वे अपने-अपने पुलिस अधिकारियों के साथ मौके पर ही रहते हुए कोई भी समस्या यदि होती है तो उसका समय रहते हुए अपने विवेेक से निस्तारित करने का प्रयास करें तथा वस्तु स्थिति उच्च अधिकारियों को तुरन्त अवगत कराते रहे। जिलाधिकारी ने पुलिस कंट्रोल रूम में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के साथ डाक कांवड की सुचारू व्यवस्था के लिये समीक्षा भी की। जिलाधिकारी ने गंगा के विभिन्न घाटों पर कांवड़ियों के पुलों से कूदने एवं अधिक जल प्रवाह में स्नान नहीं करने की चेतावनी देते हुए शिवभक्त कांवड़ियों को सुरक्षित घाटों पर स्नान करने के लिये प्रेरित करने हेतु रेडक्रॉस सचिव डॉ. नरेश चौधरी को निर्देशित किया कि वे समय समय पर माइकिंग कराते रहें तथा बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल भी मुस्तैदी से सभी घाटों पर नजर बनाए रखें जिससे समय रहते हुए कांवड़ियों/श्रद्धालुओं को गंगा में डूबने से बचाया जा सके। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी के साथ अपर जिलाधिकारी (वित्त) वीर सिंह बुधियाल, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) प्यारे लाल शाह, नगर मजिस्ट्रेट अवधेश सिंह, एस0डी0एम0 पूरन सिंह राणा एवं रेडक्रास सचिव/जोनल मजिस्ट्रेट डा0 नरेश चौधरी भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.