पत्रकार उमेश कुमार ने दिखाई दरियादिली, भुरनी गांव के एक परिवार के चार बच्चों को लिया गोद।

रिपोर्ट रुड़की हब

ख़ानपुर। पत्रकार उमेश कुमार ने दरियादिली दिखाते हुए एक परिवार के चार औऱ अनाथ बच्चों को गोद लेकर एकबार फिर से एक बड़ी मिसाल पेश की है।

आपको बता दें कि पत्रकार उमेश कुमार समाजसेवा के क्षेत्र में लगातार सक्रिय रहते हैं। उन्होंने बड़े बड़े काम लोगो के लिए किए हैं इसके अलावा उन्होंने उत्तराखंड औऱ अन्य प्रदेशों में भी लगभग 300 बच्चों को गोद लिया हुआ है।
उसी क्रम में आज फिर उमेश कुमार ने खानपुर विधानसभा के भुरनी गांव में अनाथ हुए चार बच्चों को गोद लेकर उनकी सारी जिम्मेदारी उठाने का फैसला लिया है।
इन बच्चों के सर से इनके माँ और पिता दोनों साया उठ चुका है। घर मे सिर्फ इनकी बूढ़ी दादी के अलावा कोई नहीँ हैं साथ ही न घर मे कोई कमाने वाला है न कोई संभालने वाला।
पत्रकार उमेश कुमार को जब इनके बारे में जानकारी मिली वे तत्काल इनके घर पहुचे ओर इन मासूमो को गोद लेने का फैसला लिया।
उमेश कुमार ने इनकी पढ़ाई लिखाई से लेकर घर का राशन कपड़े दवाई आदि सभी प्रकार से इनकी मदद करने का भरोसा जताया हैं।
इन बच्चों की दादी लाली देवी के बताया के उसके बेटे बिट्टू व उसकी पत्नी की 10 नवम्बर 2020 को एक रोड एक्सीडेंट में मौत हो गयी थी।
घर मे सिर्फ बिट्टू ही कमाने वाला था ।उसकी मौत के बाद से घर की माली हालत खराब हो चली थी।अब उमेश कुमार ने इन बच्चों को पढ़ाई , लिखाई ओर पालन पोषण की जिम्मेदारी लेकर समाजहित में बड़ा कार्य किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.