पेट्रोल पंप कारोबारी ने प्रेस वार्ता कर एसएसआई सिविल लाइन पर लगाए गंभीर आरोप ,मामले की निष्पक्ष जांच की मांग


रिपोर्ट रुड़की हब
रुड़की।।रूड़कीं सिविल लाइन में तैनात एस एसआई केदार सिंह चौहान की पत्नी निर्मला चौहान के नाम से अनुसूचित जाति कोटे से लिए गए पैट्रोल पम्प मामले ने एक बार फिर तूल पकड़ लिया है एक बार फिर

खाकी इस मामले से बेहद चर्चाओं में है। पैट्रोल पम्प के मामले में एस एस आई कि पत्नी निर्मला चौहान के पार्टनर आनन्द सेठ प्रेस वार्ता के दौरान बेहद भावुक हो गए उन्होंने सिविल लाइन कोतवाली में तैनात एस एस आई से अपनी और अपने परिवार को जान का खतरा बताया है उन्होंने आरोप लगाया कि उन पर मंगलौर कोतवाली में फ़र्ज़ी और झूठे तरीके से केस दर्ज कराया गया।


आनंद सेठ ने कहा कि वह साईं बाबा परिवार सेवा समिति श्री साईं वेलफेयर सोसाइटी एवं श्री चरण धाम मंदिर समिति के अध्यक्ष हैं जो 2010 से पेट्रोल पंप के व्यवसाय में लगे हुए हैं जो लोगों की सेवा के लिए भी हमेशा आगे रहते हैं। आनन्द सेठ ने बताया कि वह समय समय पर गरीबों के लिए कार्य करते रहते है ।उन्होंने आरोप लगाया कि 2014 में एसएसआई केदार सिंह चौहान रुड़की सिविल लाइंस कोतवाली में तैनात थे जिनके द्वारा अनुसूचित जनजाति महिला कोटे से एक विज्ञापन प्रकाशित हुआ था जिसमें पेट्रोल पंप का आवंटन किया जाना था इस संबंध में उन्होंने मेरे से संपर्क किया लेकिन उस समय मेरे पास पैसे की उचित व्यवस्था नहीं थी जिसके चलते द्वारा एक पार्टनरशिप डीड बनवाई गई थी जिसमें एसएसआई केदार सिंह चौहान की पत्नी निर्मला चौहान को मात्र लाभ में 10% का साझीदार बनाया गया था


इतना ही नहीं साझीदार बनने के बाद एसएसआई की पत्नी द्वारा मुख्तारआम नियुक्त किया गया था जिसके चलते पेट्रोल का संचालन किया गया उनके द्वारा किया जाता रहा।दरोगा केदार सिंह चौहान जून में रूड़कीं सिविल लाइन कोतवाली में आये हैं तभी से इनके मन मे लालच आ गया जिनके द्वारा लगातार उन्हें परेशान किया जा रहा है जिसके चलते उन्होंने झूठा केस गंभीर धाराओं में मेरे और बेटे के खिलाफ दर्ज कराया है जिससे उनका परिवार बेहद सहमा हुआ है और परेशान है।मेरी धनराशि को भी हड़पने की कोशिश की गई है फिलहाल निर्मला देवी का पैट्रोल पम्प पर कब्ज़ा है । उन्होंने पुलिस से निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए एसपी देहात और खानपुर विधायक उमेश कुमार की काफी सराहना की है। और एसएसआई केदार सिंह चौहान के बारे में भी खानपुर विधायक उमेश कुमार ने सोशल मीडिया पर लिखा है की सूत्र बताते हैं की काली कमाई पेट्रोल पंप में खफा तक आई है दरोगा पत्नी के नाम पर चला रहा था पेट्रोल पंप मन में लालच आ गया तो एक कारोबारी परिवार को बर्बाद करने पर उतारू हो गया

Leave a Reply

Your email address will not be published.