हर्ष विद्या मंदिर पीजी कॉलेज रायसी हरिद्वार में 76वे स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर महाविद्यालय में ड्रेस कोड के साथ निकाली प्रभातफेरी

रिपोर्ट रुड़की हब
रुड़की।
।हर्ष विद्या मंदिर पीजी कॉलेज रायसी हरिद्वार में 76वे स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर महाविद्यालय में ड्रेस कोड के साथ निकाली प्रभातफेरी – इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रबंध समिति एवं प्राचार्य द्वारा विशेष निर्णय के साथ शिक्षक और शिक्षणेत्तर कर्मचारियों पर ड्रेस कोड लागू करने वाला राज्य का पहला महाविद्यालय बन गया। इस

अवसर पर महाविद्यालय के प्रबंध समिति के अध्यक्ष एवं मुख्य अतिथि डॉक्टर के पी सिंह द्वारा झंडारोहण के तत्पश्चात अपने संबोधन में कहा कि महाविद्यालय के छात्र एवं छात्राएं एक हरी टहनी के समान है शिक्षक अपने शिक्षण कौशल के उसके अंदर ज्ञान कौशल दक्षता जैसी गुणवत्ता का संवर्धन कर सकता हैं। महाविद्यालय के सचिव डॉ हर्ष

कुमार दौलत ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि महाविद्यालय में छात्र एवं छात्राओं के साथ साथ शिक्षक एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों पर भी ड्रेस कोड लागू करने से महाविद्यालय परिवार में वैचारिक समानता एवं एकता का भाव जागृत होगा। इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ आर सी पालीवाल ने राष्ट्र के नाम संबोधन की शुरुआत उच्च शिक्षा निदेशालय हल्द्वानी द्वारा दिए गए संदेशों एवं निर्देशों उच्चरित शब्दों से की। इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि उच्च शिक्षा ग्रहण करने वाले युवाओं को राष्ट्र के निर्माण में विशेष भूमिका होनी चाहिए शिक्षक एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को अपनी ऊर्जा एवं शक्ति का प्रयोग सृजनात्मक कार्यों का प्रयोग देश और प्रदेश के उन्नत के लिए होना चाहिए जिससे उच्च शिक्षा में शिक्षकों की भूमिका अहम होती है जिसके माध्यम से हम छात्र-छात्राओं में ज्ञान कौशल और दक्षता जैसी गुणवत्ता का संवर्धन कर राष्ट्र का विकास कर सकते हैं। इस अवसर पर राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवी ने निस्वार्थ भाव से रंगोली, प्रभात फेरी और अन्य कार्यों में अपना योगदान प्रस्तुत किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के सांस्कृतिक समिति के छात्र छात्राओं ने सांस्कृतिक प्रोग्राम के साथ-साथ रंगोली प्रतियोगिता प्रस्तुत की आजादी अमृत महोत्सव पर महाविद्यालय द्वारा निकाली गई प्रभात फेरी में प्राध्यापक डॉ अजीत राव डा नीतू राम डॉक्टर दीपिका भट्ट डॉ शिल्पी डॉ केपी तोमर डॉक्टर शिल्पी पाल आदि एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारी ने प्रतिभाग किया

Leave a Reply

Your email address will not be published.