फोरेंसिक जांच में मेयर की आवाज की पुष्टि, पार्षदों ने मांगा इस्तीफा


रिपोर्ट रुड़की हब
रुड़की। फोरेंसिक जांच में मेयर की आवाज की पुष्टि होने के बाद पार्षदों ने उनसे इस्तीफा देने की मांग की है। कहा है कि अगर मेयर ने इस्तीफा न दिया तो सभी पार्षद एकजुट होकर अपना इस्तीफा दे देंगे। वहीं इस दौरान कांग्रेस पार्षद ने मेयर की तस्वीरों पर कालिक पोतकर विरोध जताया।


जनवरी 2022 में एक ऑडियो वायरल हुई थी जिसमें लीज संपत्ति के नाम पर 25 लाख रुपए की मांग की गई थी बताया गया था कि ऑडियो में आवाज मेयर गौरव गोयल की है। वहीं मामले में शहर के मुख्य व्यवसायी सुबोध गुप्ता की ओर रिश्वत मांगने का आरोप लगाते हुए मेयर के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया था। मुकदमा दर्ज होने के बाद उक्त ऑडियो जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेजी गई थी। अब पांच माह के बाद आई फोरेंसिक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि रिश्वत मांगने वाली आवाज मेयर गौरव गोयल की थी। अब फोरेंसिक जांच आने के बाद पार्षदों ने मेयर के खिलाफ इस्तीफा खोल दिया है। पार्षद विवेक चौधरी, राकेश गर्ग, धीराज पाल, नितिन त्यागी आदि का कहना है कि यह साबित होता है कि मेयर गौरव गोयल भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। पार्षदों ने कहा कि ऑडियो वायरल होने के बाद मेयर गौरव गोयल ने एक चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा था कि अगर यह बात साबित हो गई कि ऑडियो में आवाज उनकी है तो वह इस्तीफा दे देंगे। उन्होंने कहा कि नैतिकता के आधार पर गौरव गोयल को इस्तीफा दे देना चाहिए। पार्षद शक्ति राणा ने कहा कि अगर मेयर गौरव गोयल इस्तीफा नहीं देते तो सभी पार्षद सामूहिक इस्तीफा देंगे क्योंकि कोई भी पार्षद भ्रष्टाचारी मेयर के नेतृत्व में कार्य नहीं करना चाहता। पार्षद पति जेपी शर्मा, हरीश शर्मा आदि ने भाजपा हाईकमान से मांग की कि उन्हें पार्टी से बाहर करना चाहिए। इस दौरान पार्षदों ने मेयर गौरव गोयल के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कांग्रेस पार्षद आशीष अग्रवाल ने निगम परिसर में लगी मेयर की तस्वीरों पर कालिक पोतकर अपना विरोध जताया। इस दौरान पार्षद प्रमोद पाल, मनोज कुमार, अनुज त्यागी, अमित प्रजापति, पार्षद पति संजीव तोमर आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.