हर्ष विद्या मंदिर पीजी कॉलेज रायसी द्वारा देशज लोगों के लिए विश्व अंतरराष्ट्रीय दिवस पर संगोष्ठी किया आयोजन


रिपोर्ट रुड़की हब
रुड़की।
।हर्ष विद्या मंदिर पीजी कॉलेज रायसी हरिद्वार के इतिहास विभाग द्वारा देशज लोगों के लिए विश्व अंतरराष्ट्रीय दिवस (8 अगस्त 2022)के अवसर पर एक दिवसीय विभागीय संगोष्ठी के तहत अतिथि व्याख्यान कराया गया। महाविद्यालय के प्रबंध समिति के अध्यक्ष डॉक्टर के पी सिंह और सचिव डॉ हर्ष कुमार दौलत ने इतिहास विभाग की सराहना करते हुए कहा कि इस एक दिवसीय विभागीय संगोष्ठी से

विभाग के छात्र-छात्राओं में उत्तराखंड में निवास करने वाली जनजातिय संघर्षों को जानने का अवसर प्राप्त होगा। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ आर सी पालीवाल ने अतिथि व्याख्यान के लिए चुने गए विषय पर अपना मंतव्य प्रस्तुत करते हुए कहा कि विलुप्त हो रही जनजातियों की संस्कृति एक वैश्विक समस्या है लेकिन इस पर राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर विशेष रुप से कार्य किए जाने की आवश्यकता है। अतिथि व्याख्यान को सफल बनाने के लिए आई मुख्य अतिथि डॉक्टर पूनम सहायक आचार्य, इतिहास विभाग ,(रघुनाथ गर्ल पीजी कॉलेज मेरठ उत्तर प्रदेश )ने अपने व्याख्यान में उत्तराखंड के सभी जनजातियों के वर्तमान परिस्थिति , विलुप्त हो रही संस्कृति, संघर्षों एवं राष्ट्रीय स्तर पर इसका नियोजन कैसे किया जाए इन सभी विषयवस्तुओं पर अपने सारगर्भित व्याख्यान से समस्त महाविद्यालय परिवार एवं छात्र छात्राओं को मंत्रमुग्ध कर दिया।इस संगोष्ठी में महाविद्यालय के इतिहास विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ अजीत राव डॉक्टर रणवीर सिंह एवं डॉ प्रशांत कुमार ने छात्र-छात्राओं छात्र-छात्राओं को अतिथि व्याख्यान को आत्मसात करने के लिए प्रेरित किया इस एक दिवसीय संगोष्ठी को सफल बनाने के लिए महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ विक्रम सिंह (संगोष्ठी के संचालक) डॉक्टर पूनम डॉक्टर मीनू डॉ विनीता कश्यप आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.